Part 1


Part 2

The Inside Story
The police had uploaded the woman’s photograph on Facebook on Sunday as no one had come forward to claim the body.

The body of a woman, found four days ago and now lies in a mortuary in the Medical College in Meerut, has been identified by her estranged husband who saw her photograph on Facebook.
The police had uploaded the woman’s photograph on Facebook on Sunday as no one had come forward to claim the body four days after they found her lying unconscious on a street in Meerut. They had taken her to a hospital, where she was declared dead by doctors who said she was shot at point blank range.
The woman has now been identified as Neha Verma, from Vijay Nagar in Ghaziabad, where she lived with her mother. She is survived by a five-year-old daughter and a two-year-old son who live with her estranged husband, Vipin Verma, a jeweller. The two were married in 2008, but in 2012 had approached a family court in Ghaziabad for a divorce, which is still pending.
SSP Onkar Singh told The Indian Express: “She was using three SIM cards and when the police checked details, it was revealed that she was in touch with many people”. He said the police will now question these people.

Thanks To:
http://indianexpress.com/article/india/crime/meerut-man-identifies-body-of-estranged-wife/

सोशल नेटवर्किंग साइट से खुला नेहा के कत्‍ल का राज

महज कुछ दिन पहले जिस लाश की पहचान मेरठ पुलिस के लिए एक पहेली बनी थी, उस लाश की पहचान क्या हुई, देखते ही देखते पुलिस ने कत्ल की पूरी साजिश बेनकाब कर दी. इस कड़ी में सबसे मददगार साबित हुई, फेसबुक पर लाश की तस्वीर का वो मार्मिक पोस्ट जो चंद घंटों में वायरल हो चुका था.
दरअसल, मेरठ के जिमखाना क्लब के नजदीक 17 अप्रैल की रात एक लड़की की लाश मिली थी. उसे फौरन अस्पताल ले जाया गया, लेकिन तब तक देर हो चुकी थी. चूंकि लाश के आस-पास दूसरा कोई सुराग नहीं था, ऐसे में पुलिस ने कातिलों तक पहुंचने के लिए सबसे पहले लड़की की पहचान पता करने का फैसला किया. अखबारों में इश्तेहार दिए गए. इसी बीच कुछ लोगों ने लड़की की लाश की तस्वीर के साथ फेसबुक पर एक पोस्ट अपलोड कर दिया और उसकी शिनाख्त की अपील की.

अपनी बेटी की तलाश में जुटे इस लड़की के घरवालों को भी फेसबुक से ही इस मनहूस खबर का पता चला. वो फौरन गाजियाबाद से मेरठ पहुंचे, जहां अपनी सहेली से मिलने जाने की बात कह कर दो दिन पहले घर से निकली उनकी बेटी क़ातिलों का शिकार हो गई. ये लड़की थी गाजियाबाद की नेहा वर्मा. नेहा शादीशुदा थी और उसके दो बच्चे भी थे, लेकिन अपने पति से अनबन की चलते वो अपनी मां के साथ अकेली रहती थी.

इस पोस्ट के जरिए पुलिस नेहा के घरवालों तक क्या पहुंची, नेहा का पूरा ट्रैक रिकॉर्ड सामने आ गया. छानबीन के दौरान ये पता चला कि नेहा की शादी दो साल पहले विपिन वर्मा नाम के एक शख्स से हुई थी, लेकिन नेहा के मेरठ के रहनेवाले वसीम इलाही नाम के एक नौजवान से भी नजदीकी रिश्ते थे. ये बात नेहा के पति को नागवार गुजरी. विपिन ने नेहा से तलाक की अर्ज़ी दी और दोनों बच्चों के साथ उससे अलग रहने लगा. इधर, नेहा और वसीम का मिलना-जुलना और भी ज्‍यादा हो गया.

आशिक ने सीने में मारी गोली
एक दिन नेहा अपने घर में किसी सहेली से मिलने जाने की बात कही और वसीम से मिलने मेरठ पहुंच गई. लेकिन यहां पहले से नेहा को ठिकाने लगाने की साजिश रच चुके वसीम ने उसे अपनी स्कूटी पर बिठाया और रात को जैसे ही शहर की बिजली गुल हुई, अंधेरे का फायदा उठा कर उसे स्कूटी से गिरा दिया और नजदीक से सीने में गोली मार कर फरार हो गया. इस काम में उसके दो दोस्तों आसिफ और शोएब ने भी उसकी मदद की. उधर, पुलिस के छानबीन शुरू करते ही वसीम और शोएब तो फरार हो गए, लेकिन आसिफ पकड़ा गया.

किसी और से इश्‍क करने लगी थी नेहा
आसिफ ने पूछताछ में उसने जो कहानी बताई वो बेहद अजीब थी. पुलिस को पता चला कि अपने पति से अलग हो कर वसीम के इश्क कर रही नेहा इन दिनों किसी और लड़के के भी करीब आ चुकी थी, जबकि वसीम उससे शादी करना चाहता था. ऐसे में नेहा का ये रवैया वसीम को इतना अखर गया कि उसने नेहा के कत्ल की साज़िश रच डाली.

Thanks to:
http://aajtak.intoday.in/story/facebook-helped-to-crack-neha-verma-murder-case-of-ghaziabad--1-762113.html