घटना एक जनवरी 2016 को मोतरा घाटी में हुई थी हजारीबाग : साली के प्यार में इतना पागल हो गया कि खुद की पत्नी की हत्या करवा दी. यह मामला बड़कागांव थाना क्षेत्र के गोंदलपुरा गांव की है. घटना एक जनवरी 2016 को मोतरा घाटी में घटी थी. पति विनोद कुमार ने बड़कागांव थाना में खुद प्राथमिकी दर्ज करायी थी कि सड़क लूटेरों ने मेरी पत्नी किरण की गोली मार कर हत्या कर पर्स से 12 हजार रुपये लूट लिये. संदेह के आधार पर शुरू हुई थी जांच पत्नी की हत्या व लूट का मामला विनोद बड़कागांव थाना में दर्ज कराने पहुंचा. पुलिस विनोद का चेहरा देख कर उस पर संदेह करने लगी. एसपी अखिलेश कुमार झा ने बड़कागांव इंस्पेक्टर सह थाना प्रभारी अवधेश सिंह को विनोद पर नजर रखने का आदेश दिया था.

विनोद से थाना में बुला कर पूछताछ भी की गयी थी. साक्ष्य संकलन के लिए पुलिस के वरीय अधिकारी भी जुटे हुए थे. विनोद को जब भी थाना बुलाया जाता था, वह पुलिस पर दबाव बनाने के लिए ससुराल के लोगों को साथ लेकर आता था. इस प्रकार संदेह सच में बदलने लगा. इस मामले की गुत्थी सुलझाने में 25 दिन लगा. विनोद को पुलिस ने हिरासत में लेकर पूछताछ शुरू की. पूछताछ के क्रम में विनोद ने किरण की हत्या के सारे मामले का खुलासा कर दिया. इसकी निशानदेही पर राजकुमार उरांव, बंधन उरांव, जीवन टोप्पो एवं बालेश्वर गंझू को गिरफ्तार किया गया. इनसे भी पूछताछ की गयी. चारों ने अपना अपराध स्वीकार कर लिया. चार साल से साली से चल रहा था प्रेम एसपी अखिलेश कुमार झा ने बताया कि विनोद कुमार चार वर्षों से अपनी साली से प्रेम कर रहा था. इसकी जनकारी पत्नी किरण को हो गयी. किरण बार-बार पति का विरोध कर रही थी. पुलिस के समक्ष विनोद ने खुलासा किया कि साली के साथ प्रेम-प्रसंग मामले की जानकारी पत्नी को हो गयी. प्रतिदिन वह लड़ाई-झगड़ा करने लगी थी. इससे तंग आकर उसे रास्ते से हटाने का निर्णय लिया. एक जनवरी को हत्या करने की योजना बनी एसपी ने कहा कि किरण की हत्या की तीथि एक जनवरी 2016 निर्धारित हुआ. विनोद ने चारों को यह कहा कि एक जनवरी को पत्नी को लेकर पिकनिक करने जायेंगे. शाम को लौटते समय मोइत्र घाटी में घात लगाये रहना. शेष राशि 12 हजार पर्स में रहेगा उसे लूट लेना. बनाये गये योजना के अनुसार आरोपियों ने किरण की हत्या एक जनवरी की शाम मोतरा घाटी में कर दी. किरण की हत्या के लिए सुपारी दी विनोद कुमार एलआइसी का एजेंट है. वह पॉलिसी लेने के लिए कटकमदाग थाना क्षेत्र के हारम गांव गया. वहां मंगल टोप्पो और जीवन टोप्पो से पॉलिसी मांगी. जीवन टोप्पो ने विनोद को कहा कि मैं पॉलिसी देता नहीं हूं, लेता हूं. इस बात से विनोद को विश्वास हो गया कि जीवन टोप्पो मेरा काम कर सकता है. विनोद ने रामकुमार उरांव, जीवन टोप्पो, बंधन उरांव और बालेश्वर गंझू से पत्नी की हत्या करने को कहा. किरण की हत्या के लिए 62 हजार रुपये में सौदा तय हुआ. एसपी ने कहा कि विनोद ने तत्काल चारों को अग्रिम राशि 50 हजार रुपये दे दिया. किरण का सात लाख 50 हजार रुपये का बीमा एसपी ने बताया कि विनोद ने अपनी पत्नी किरण के नाम से सात लाख 50 हजार रुपये का बीमा कराया था. पत्नी को मरवा कर बीमा की राशि हासिल करना चाह रहा था. 7.50 लाख रुपये किरण की हत्या के बाद बीमा की राशि लेना चाहता था.

Thanks To:
http://m.dailyhunt.in/news/india/hindi/prabhat-khabar-epaper-prabhatkhabar/sali-ke-prem-me-karayi-thi-patni-ki-hatya-newsid-49066678