Case 8/2017
Part 1


Case 8/2017Part 2

The Inside Story
Two persons from Bengal's Dolkhola area were kidnapped and subsequently murdered in Begusarai district late on Saturday night.

Dolkhola is around 444km from Calcutta in North Dinajpur district of Bengal.

Police recovered the bodies of Rajendra Thakur (68) and his grandson Nakul Thakur (22) from Bihat under the jurisdiction of Food Corporation of India (FCI) police outpost in Begusarai, around 110km east of Patna, on Sunday morning.

Begusarai superintendent of police (SP) Ranjit Kumar Mishra said the victims had come to their relative Ramcharitra's house for marriage negotiations. Their bullet-riddled bodies were recovered from a ditch on the outskirts of the village, around 3km west of Barauni, he said.

The house owner Ramcharitra Thakur told the police that the room in which Rajendra and his grandson were sleeping was found opened in the morning.

The two were missing from the room. Around 6.30am, a resident informed the family (Ramcharitra) that the bodies of their relatives had been spotted in a roadside ditch.

Ramcharitra, a farmer, revealed that Rajendra visited him on Friday to negotiate the marriage of his grandson Nakul. The victims were residents of Chhoti Suhar near Dalkhora in North Dinajpur district of Bengal.

Begusarai SP Mishra said a team had been sent to Bengal from Begusarai to ascertain the reason behind the double murder. "The role of a notorious criminal of the area, who had been released from jail recently, is also under the scanner of the police," he said.

The SP didn't give a clean chit to Ramcharitra, who had provided shelter to the deceased. "The police will interrogate him (Ramcharitra) once the statement of the deceased's family members is recorded," he added.

The station house officer of FCI police outpost, Shailesh Kumar, said the bodies had been sent to the Begusarai sadar hospital for a post-mortem.

"A few suspects have been picked up for interrogation. The motive behind the killing is yet to be ascertained," he told The Telegraph over phone.

Thanks To:
https://www.telegraphindia.com/1161017/jsp/bihar/story_113806.jsp#.WJMiObZ944U

Man, grandson killed at Bihat in Begusarai
Begusarai: Unidentified criminals shot dead a man and his grandson when they were sleeping in the house of their relatives at Bihat under FCI police outpost in Begusarai district on Saturday night.
Police said the criminals first took the duo to a place about hundred metres away from the house where they were sleeping and then shot them dead. FCI police outpost SHO Shailesh Kumar said Rajendra Thakur (65) and his grandson Nakul (18) were residents of West Bengal and had come to visit their relative Ram Charitra Mahto only a few days back. He, however, expressed surprise over the way the criminals managed to enter the house, which was locked from inside, and take the duo away despite the fact that other family members were there in the house. "Police found their bodies lying in a pool of blood in the morning," he said.

Asked about any possible reason for the double murder and the criminals behind it, the SHO said preliminary investigations indicate the involvement of one 'Shooterva', a notorious criminal and his gang in the crime.

Thanks To:
http://timesofindia.indiatimes.com/city/patna/Man-grandson-killed-at-Bihat-in-Begusarai/articleshow/54885594.cms
BEGUSARAI CRIME : बीहट में घर से निकालकर दादा-पोते की हत्या

(16 Oct) बरौनी थाने के एफसीआई ओपी क्षेत्र के बीहट सुदीस्थान में अपने रिश्तेदार के यहां आये दादा व पोते की हत्या बदमाशों ने घर से निकालकर कर दी। घटना शनिवार देर रात की है। बदमाशों ने हत्या कर दोनों के शव को सड़क पर फेंक दिया। मृतकों की पहचान पश्चिम बंगाल निवासी 70 वर्षीय राजेन्द्र ठाकुर व उनके 22 वर्षीय पोता नकुल ठाकुर के रूप में की गई है। राजेन्द्र ठाकुर के बारे में बताया गया है कि वे बरौनी थर्मल के अवकाशप्राप्त कर्मचारी सह अखिल भारतीय नाई समाज के जिला मंत्री रामचरित्र ठाकुर के ममेरे साढ़ू थे। इधर, रामचरित्र ठाकुर ने बताया कि उनके साढ़ू, साढू की पत्नी तथा उनका बेटा उनलोगों से मिलने के लिए दो दिन पूर्व ही पश्चिम बंगाल से उनके यहां आये थे। शनिवार की रात खाना खाने के बाद उनके साढ़ू तीन मंजिले मकान के प्रथम तल पर एक कमरे में सो रहे थे जबकि उनका पोता नकुल प्रथम तल के ही बरामदे में सो रहा था। रविवार की अहले सुबह जब उनकी पुत्रवधू उठी तो दरवाजे की छिटकनी को टूटा पाया। साथ ही, राजेन्द्र ठाकुर व नकुल ठाकुर घर भी घर में नहीं थे। दोनों की खोजबीन की ही जा रही थी कि दोनों बाबा-पोते के शव के सड़क पर पड़े रहने ही जानकारी मुहल्ले के लोगों ने दी। दोनों शवों के हाथ गमछी से पीछे की ओर बंधे थे। घटना की सूचना देने के बाद मौके पर पहुंची पुलिस ने राजेन्द्र ठाकुर व उनके पोता नकुल ठाकुर का शव मल्हीपुर चौक से मल्हीपुर की ओर जाने वाली पगडंडी सड़क पर से बरामद कर पोस्टमार्टम के लिए भेज दिया। सदर एसडीपीओ राजेश कुमार ने बताया कि प्रथमदृष्टया गोली मारकर तथा धारदार हथियार से हत्या का मामला प्रतीत हो रहा है। दोनों की हत्या दहशत फैलाने की नीयत से की गई है। हालांकि, इस घटना का कारण अब तक स्पष्ट नहीं हो सका है। सदर एसडीपीओ ने कहा कि मामले का खुलासा पुलिस अनुसंधान के बाद ही हो पाएगा। मौके पर सदर एसडीपीओ के अलावा बरौनी थानाध्यक्ष गजेन्द्र कुमार, एफसीआई, चकिया, जीरोमाइल के ओपी अध्यक्ष आदि मौजूद थे। शक की सूई क्षेत्र के शातिर बदमाशों पर : एफसीआई ओपी क्षेत्र के बीहट सुदीस्थान में शनिवार की देर रात हुए दोहरे हत्याकांड में शक की सूई क्षेत्र के शातिर बदमाशों पर जा रही है। सदर एसडीपीओ राजेश कुमार ने बताया कि मल्हीपुर-विशनपुर के एक कुख्यात बदमाश जो कि हाल में ही जेल से छूट कर आया है। जेल में रहकर भी उक्त बदमाश कई अपराधिक घटनाओं की साजिश कर चुका है। उक्त कुख्यात के अन्य सहयोगियों के भी घटना में शामिल होने की बात पुलिस कह रही है। पुलिस अधिकारी ने बताया कि प्रथमदृष्टया दशहत फैलाने की नीयत से हत्या करने का मामला प्रतीत होता है। सदर एसडीपीओ ने बताया कि घटना में शामिल बदमाशों की बहुत जल्द पहचान कर उनके विरूद्ध कारवाई की जाएगी। पुलिस अधिकारी ने बताया कि विशनपुर के एक कुख्यात के विरूद्ध सीसीए की भी अनुशंसा की गई है। इसके बावजूद वह जमानत पर छूट कर आ गया। दो दर्जनाधिक आपराधिक घटनाओं को अंजाम देने वाले उक्त कुख्यात को बेगूसराय जेल से हटाकर बक्सर जेल भी तकरीबन एक वर्ष पूर्व ही भेजा गया था। (ए.सं.) धोखे में हुई है बाबा-पोते की हत्या : उनके रिश्तेदार की हत्या धोखें में कर दी गई है। कारण यह कि उनके रिश्तेदार की बीहट में किसी से दुश्मनी नहीं थी। यह बात बीहट सुदीस्थान निवासी रामचरित्र ठाकुर ने कहीं। उन्होंने बताया कि दरअसल वे तथा उनका पुत्र जिस जगह सोते थे, रिश्तेदार के आने के बाद दोनों रिश्तेदार ही उक्त जगह पर सो रहे थे। बदमाशों ने उन दोनों को बाप-बेटा समझकर उनकी हत्या कर दी है।

रामचरित्र ठाकुर ने कहा कि उनकी भी किसी से दुश्मनी नहीं है। हालांकि, उन्होंने यह भीबताया कि एक साल पहले उनसे चलते-फिरते क्षेत्र के एक बदमाश ने रंगदारी टैक्स की मांग की थी। लेकिन उक्त बदमाश को वे पहचान भी नहीं पाये थे। नयानगर थाना क्षेत्र के महेन्द्रपुर गांव निवासी रामचरित्र ठाकुर बरौनी थर्मल से 2007 में अवकाश ग्रहण करने के बाद बीहट सुदीस्थान में ही जमीन खरीदकर घर बनाकर रह रहे हैं। वे अखिल भारतीय नाई समाज के जिलामंत्री भी हैं। उनके ममेरे साढ़ू पश्चिम बंगाल के उत्तर दिनाजपुर जिला के बिक्रम थाना क्षेत्र के छोटी सुहाल गांव के रहने वाले थे। हालांकि, वे खगड़िया जिला के धुतमुरी विशनपुर के मूल निवासी थे और करीब पांच दशक से बंगाल में ही रह रहे थे। उनके साढ़ू मिलिट्रीमैन थे और अवकाशग्रहण के बाद पश्चिम बंगाल में ही रह रहे थे। रविवार की सुबह ही वे पश्चिम बंगाल के लिए निकलते। दोहरे हत्याकांड की गुत्थी सुलझाना आसान नहीं : एफसीआई ओपी के बीहट सुदीस्थान में शनिवार की देर रात बाबा-पोते की हत्या रहस्यमय बना हुआ है। जिस शातिर अंदाज से इस दोहरे हत्याकांड को अंजाम दिया गया है उससे उस कांड की गुत्थी सुलझाना पुलिस के लिए आसान नहीं है। बदमाश दोनों को बंद कमरे से उठाकर ले गये और बगल के कमरे में ही सो रहे अन्य लोगों को इसकी भनक तक नहीं लगी। इतना ही नहीं, प्रथम तल के जिस बरामदे पर नकुल सो रहा था उसके दरवाजा की छिटकनी तोड़कर बदमाश घर के अंदर घुसे। फिर जिस सड़क पर दोनों शव मिले उसके आसपास भी घनी आबादी है। दूसरी तरफ उक्त दोहरे हत्याकांड की गुत्थी बहुद जल्द सुलझाने की बात पुलिस अधिकारी कह रहे हैं। रिश्तेदारों की हत्या से सदमे में है पूरा परिवार : रिश्तेदार की हत्या से रामचरित्र ठाकुर का पूरा परिवार सदमे में है। एक साथ दो लोगों की हत्या से परिवार तथा मुहल्लें के लोगों में दहशत का माहौल है। मुहल्ले के लोगों ने बताया कि लोग घर के भीतर भी सुरक्षित नहीं रह गये हैं। परिजनों के करूण क्रंदन से पूरे मुहल्ले में गम का माहौल है।

Thanks To:
http://m.dailyhunt.in/news/india/hindi/live+hindustan-epaper-livehindu/begusarai+crime+bihat+me+ghar+se+nikalakar+dada+pote+ki+hatya-newsid-59129268
बीहट में डबल मर्डर से सनसनी, दादा-पोते की हत्या

बेगूसराय : बेगूसराय में रविवार की सुबह दिल-दहला देने वाली थी. अपराधियों ने दादा-पोते की नृशंस हत्या कर दी. मौत ने मानो बंगाल के मृतक राजेन्द्र ठाकुर (68) और उनके पौत्र नकुल ठाकुर (22) को बेगूसराय के बीहट में बुला लिया था. चर्चा की माने तो हत्यारा एफसीआई थाना क्षेत्र के गृह स्वामी राम चरित्र ठाकुर की हत्या रंगदारी को लेकर करना चाह रहा था. लेकिन हत्यारों ने ठाकुर के घर आये मेहमान को ही निशाना बना लिया.Patli.gif

हत्या के कारणों की पुलिस छानबीन कर रही है. बताते चलें कि मटिहानी थाना के मूल निवासी व बरौनी थर्मल पावर स्टेशन से सेवानिवृत राम चरित्र बीहट में मकान बनाकर रह रहे हैं. उनके ममेरे साढू राजेंद्र ठाकुर जो छोटी सुहार, थाना-विक्रम, जिला- उत्तर दिनाजपुर (बंगाल) अपने घर से शुक्रवार की शाम बीहट आये थे.

मृतक पत्नी और पोता के साथ किसी शादी की बात करने के सिलसिले में आये थे. रात में खाना के बाद सोने चले गए. रात में 3 बजे राम चरित्र के बेटे संतोष ने दोनों को बिछावन पर नहीं देखा. साथ ही किवाड़ का कुंडी टूटा पाया. इसके बाद परिवार के लोग खोजबीन में लग गए. इस क्रम में दोनों का शव मल्हीपुर भिठ्ठा के पास वाली पगडंडी पर पड़ा मिला. दोनों की हत्या गोली मारकर अज्ञात अपराधियों द्वारा की गई है.

murder-2मृतक नकुल का हाथ गमछा से पीछे बंधा था. घटना की सूचना मिलते ही सुबह में बड़ी संख्या में लोग जुट गए. एफसीआई थाना प्रभारी शैलेश कुमार, बरौनी थानाध्यक्ष गजेन्द्र सिंह, चकिया, जीरोमाइल प्रभारी घटनास्थल पर पहुंच कर मामले की पड़ताल में लगे हैं । शव को पोस्टमार्टम के लिए भेज दिया गया है ।

Thanks To:
http://livebegusarai.in/dubble-murder-begusarai/
दोहरे हत्याकांड से पीडित परिवार दहशत में

बेगूसराय। बीहट की एफसीआइ ओपी थाना के बीहट सूदी स्थान निवासी विभीषण ठाकुर का पुत्र रामचरित्र ठाकुर घर विगत शुक्रवार को आए उनके दो रिश्तेदार की हत्या अपराधियों ने गोली मारकर रविवार की रात्रि में कर दी। जिससे संपूर्ण पीडित परिवार दहशत में हैं। अपराधियों ने शव को मल्हीपुर चौक से मल्हीपुर विशनपुर चांद जाने वाले पगंड्डी वाले रास्ते में कर शव रास्ते के किनारे खेत में फेंक दिया। प्राप्त जानकारी अनुसार मृतक पं. बंगाल के उत्तर दिनाजपुर, थाना विक्रम छोटी सुहार निवासी 68 वर्षीय राजेंद्र ठाकुर एवं उसके 22 वर्षीय पोता नकुल ठाकुर की हत्या अपराधियों ने गोली मार व डंडे से कर दी। जानकारी अनुसार मृतक राजेंद्र ठाकुर अपनी पत्नी व पोते के साथ शुक्रवार को सूदी स्थान बीहट के वार्ड सं 26 आया था। रविवार की रात्रि बाबा व पोता व उनके रिश्तेदार खाना खाकर अलग अलग जगह पर सो गए थे। वहीं रामचरित्र ठाकुर ने बताया कि मृतक राजेंद्र ठाकुर उनकी पत्नी की ममेरी बहन का पति है। सभी लोग हम सबसे मिलने आए हुए थे। रात में मेरे साढू राजेंद्र ठाकुर दो मंजिला मकान के ऊपर वाले कमरे में सोए थे। जबकि उनका पोता बगल के हॉल में सोया हुआ था। रात करीब तीन बजे मेरे पुत्र संतोष कुमार जगा तो देखा कि बाबा व पोता अपने कमरे में नहीं हैं। घर निकलने वाले दरवाजे की कुंडी टूटी थी। घर के आस पास ढूंढा कहीं पता नहीं चला। सुबह पांच बजे घर के कुछ दूर पगडंडी वाले रास्ते पर दो शव की सूचना पर घटनास्थल पहुंचा तो दोनों शव हमारे रिश्तेदार का था। घटना की सूचना एफसीआई ओपी प्रभारी शैलेश कुमार को दी गई। सूचना पाते ही घटनास्थल पर पहुंच शव को कब्जे में कर पोस्टमार्टम हेतु सदर अस्पताल भेज दिया।घटना की सूचना पाते ही लोगों की भीड़ शव को देखने उमड़ने लगी। इधर घटना की सूचना पाते ही सदर डी एसपी राजेश कुमार,बरौनी इंस्पेक्टर गजेंद्र कुमार ¨सह, चकिया प्रभारी राज रतन, जीरोमाइल थाना प्रभारी अजय कुमार अजनबी, पुलिस बल के साथ घटनास्थल का निरीक्षण कर पीड़ित परिवार से पूछताछ की। जानकारी अनुसार विगत वर्ष 2014 के नवंबर माह में विशनपुर चांद निवासी कुख्यात अपराधी अजीत कुमार उर्फ सुटरवा के द्वारा रामचरित्र ठाकुर से रंगदारी की मांग की गई थी। इस मामले में सुटरवा जेल भी जा चुका था। कुछ दिन पूर्व वह जेल से बाहर आया था। उसके द्वारा केस उठाने, रंगदारी मांगने के अलावा क्षेत्र में दहशत फैलाने को लेकर उक्त घटना को अंजाम दिया है। इधर एफसीआई ओपी में रामचरित्र ठाकुर के फर्द बयान पर मामला दर्ज किया गया है। दर्ज मामले में करीब दो दर्जन से अधिक हत्या, लूटपाट एवं रंगदारी के मामले में विभिन्न थानों में नामजद विशनपुर चांद निवासी अजीत कुमार उर्फ सुटरवा व उनके तीन साथियों सहित अन्य के विरूद्ध मामला दर्ज किया गया है। वहीं सदर डीएसपी राजेश कुमार ने बताया कि सुरक्षा के ²ष्टिकोण से राजेंद्र ठाकुर के घर पर पुलिस जवान की तैनाती की गई है। साथ ही बताया कि अपराधियों की गिरफ्तारी हेतु टीम गठित कर छापेमारी की जा रही है। जल्द ही अपराधियों की गिरफ्तारी की जाएगी।

Thanks To:
http://www.jagran.com/bihar/begusarai-14877284.html#sthash.rpEn4uFB.dpuf
डबल मर्डर : धरे रह गए शादी के अरमान, युवक का दादा के साथ हुआ ये अंजाम...

बिहार के बेगूसराय में रविवार को डबल मर्डर से सनसनी फैल गई है। घटनास्थल पर जमा हजारों की भीड़ में पुलिस के खिलाफ नाराजगी देखी जा रही है।
बेगूसराय [जेएनएन]।
बिहार का बेगूसराय डबल मर्डर से दहल उठा है। रविवार की सुबह बीहट में दादा व पोते की हत्या कर फेंकी दो लाशें मिलने से सनसनी मच गई है। दोनों पश्चिम बंगाल के रहने वाले थे। पोता अपनी शादी की बातचीत के लिए दादा के साथ बेगूसराय आया था।

मिली जानकारी के अनुसार बेगूसराय के एफसीआइ ओपी स्थित बीहट सुदी स्थान में अपराधियों ने घर में घुसकर दादा राजेन्द्र ठाकुर (68) और पोता नकुल ठाकुर (22) का अपहरण कर लिया। इसके बाद वे दोनों को सुनसान जगह पर ले गए। आज सुबह दोनों के शव मिले।

मृतक पश्चिम बंगाल के उत्तर दिनाजपुर जिला स्थित छोटी सुहार के रहने वाले थे। वे बीहट निवासी व पूर्व थर्मल कर्मी अपने साढू रामचरित्र ठाकुर के यहां पोते की शादी की बात करने आये थे। रामचरित्र के अनुसार देर पताा वे घर में नहीं हैं तथा दरवाजा भी टूटा मिला। खोजबीन के दौरान आज सुबह दोनों के शव मल्हीपुर भिठ्ठा के पास मियां टोली की ओर जाने वाली पगडंडी पर पड़ी मिली।

दोनों की हत्या गोली मारकर अज्ञात लोगो द्वारा की गई है । लड़के का हाथ पीछे बंधा मिला। घटना का कारण फिलहाल ज्ञात नहीं है। घटना को लेकर लोगों का गुस्सा पुलिस के खिलाफ है।

Thanks To:
http://ihind.in/news/161016459b13302